Home धर्म वेद व् पुराण

वेद व् पुराण

कब है मकर संक्रांति ? १४ या फिर १५ जनवरी! जानिए; इसकी महत्व व् पूजा विधि!

कब है मकर संक्रांति ? १४ या फिर १५ जनवरी! जानिए; इसकी महत्व व् पूजा विधि!सनातन हिन्दू धर्म के सबसे महत्वपूर्ण त्योहार मकर संक्रांति का स्थान हिंदू धर्म में अत्यंत विशेष  है।प्रति वर्ष यह त्योहार जनवरी महीने की 13 या 14 तारीख को ही आता है। परन्तु , इस  साल अर्थात; सन 2020  में मकर संक्रांति का त्योहार इस बार न तो 13 को और न ही 14 को है।इस वर्ष मकर संक्रांति का पावन पर्व १५ जनवरी होने जा रहा है !मकर संक्रांति का ये विशेष पर्व  सूर्य देव को समर्पित है।

काशी विश्वनाथ जी को आखिर दीवारों की घेरे से मिलेगी मुक्ति – प्रधानमंत्री मोदी ने 600 करोड़ के मंदिर कॉरिडोर की रखी नींव !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी में स्थित काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर की नींव रखी। मोदी ने पहले मंदिर में विशेष अनुष्ठान और दर्शन-पूजन किया। इस अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल राम नाईक भी मौजूद.

IGNORANCE IS BLISS – To Be Or Not To BE.

BJP and its parent body RSS is now in its ideological mode. As their socio economic agenda being ploughed the Indian soil by putting the yoke in two self contradictory ideologies of RELIGION and CAPITALISM together, struggling to move forward. So they wish to survive by using its old rotten fertilizer of Hindutva ideology.

नैमिष में होगी गोमती आरती, नदियां जिबित रही तो संस्कृति जीवित रहेंगी-योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नैमिषेय शंखनाद में 51 तीर्थों के जल से हुए यज्ञ से पवित्र की गई नैमिष की धरती पर गंगा और सरयू की तरह गोमती नदी को स्वच्छ करने के लिए सभी का आह्वान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि नदियां अगर मरेंगी तो हमारी संस्कृतियां जीवित नहीं रह पाएंगी।

“गोमांस खाने से होता है कैंसर वो दिल की बीमारी का भारी खतरा, सुख-चैन भी नहीं मिलता जीवन में ” – महामंडलेश्वर स्वामी डॉ....

"गोमांस खाने से होता है कैंसर का भारी खतरा, सुख-चैन भी नहीं मिलता जीवन में " समाज विकास संवाद के प्रतिनिधि सौमेन ऍम. से एक विशेष मुलाखत के दौरान ऐसा दाबा किया है गोरक्ष नाथ पीठ के पीठाधीश महंत योगी आदित्य नाथ जी के परम परिचित एवं  हरिद्वार के जुना आखारा के महामंडलेश्वर स्वामीजी डॉ. उमाकंतानंद सरस्वती ! राष्ट्र धर्म संरक्षण के प्रति जिनकी अवदान अतुलनीय है !

JALLIKATTU” is Protected under Article 29(1) of the Constitution – Dr. Swami Appeals to court.

Jallikattu is also known as Manju Virattu (running of bulls) or Vada Manju Virattu in certain regions of Tamil Nadu.  Before Jallikattu, the bulls are taken in procession and a hero’s welcome and veneration of the holy are accorded to every one of them by the villagers and visitors.

धर्मं संस्कृति महाकुम्भ में स्वामी उमकंतानंद सरस्वती एवं सर संघचालक मोहन भागवतजी

धर्मं संस्कृति महाकुम्भ में स्वामी उमकंतानंद सरस्वती एवं सर संघचालक मोहन भागवतजी!समाज विकास संवाद!

प्राचीन भारत के मान्यता – सात महामानव जो हजारों वर्षों से हैं जीवित

भारतीय हिंदू इतिहास, पुराण और प्रमुख ग्रंथो के अनुसार इस दुनिया मैं ऐसे सात व्यक्ति हैंजो चिरंजीवी हैं। मतलब इन्हे अमरता का वरदान प्राप्त है ये सभी दिव्य और आलोकिक शक्तियोंसे पूर्ण संपन्न हैं और ये महामानव या महापुरुष किसी न किसी वचन या शाप से बंधे हुए हैं।हिन्दू इतिहास के अनुसार योग में जिन अष्ट सिद्धियों की बात कही या लिखी गई हैवे सारी अदभुद शक्तियाँ इनके पास हैं।

आध्यात्म व परंब्रह्म एक अदृश्य शक्ति – निराकार मार्ग ही है सर्वोच्च मार्ग

आध्यात्म व परंब्रह्म एक अदृश्य शक्ति - निराकार मार्ग ही है सर्वोच्च मार्गसाथियों, ये सृष्टि एक अनुपम व अदभुत शक्ति के प्रभाव से चल रही है, जिसे आध्यात्म में परंब्रह्म अथवा निरंकार अथवा निराकार अथवा अदृश्य शक्ति के रूप में जाना जाता है। ये अदृश्य शक्ति इतनी ताक़तवर है कि इसकी थाह पाना,इससे पार पाना या वश में कर पाना साधारण मनुष्य के लिए संभव ही नहीं है।

ऐतिहासिक सातशे वर्ष जुन्या नागेश्‍वर महादेव मंदिराचे जीर्णोद्धार

नागेश्वराच्या सातशे वर्ष जुन्या ऐतिहासिक मंदीरास मूळ स्वरुप प्राप्त करुन देण्यासाठी महापालिकेच्या माध्यमातून उत्कृष्ट प्रयत्न करण्यात आलेला आहे, असे प्रतिपादन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस यांनी येथे केले।

तुलसी की पौधे हमे आनेवाले अच्छे, बुरे समय का अग्रिम सुचना देती है!

तुलसी की पौधे हमे आनेवाले अच्छे, बुरे समय का अग्रिम सुचना देती है!क्या आपने कभी इस बात पर ध्यान दिया कि आपके घर, परिवार या आप पर कोई मुसीबतआने वाली होती है तो उसका असर सबसे पहले आपके घर में स्थित तुलसी के पौधे पर होता है।आप उस पौधे का कितना भी ध्यान रखें धीरे-धीरे वो पौधा सूखने लगता है।तुलसी का पौधा ऐसा है जो आपको पहले ही बता देगा कि आप पर या आपके घर परिवार कोकिसी मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है।

ग्रहराज सूर्य – आज हम चर्चा करेंगे नवग्रहो के राजा सूर्यदेव की!

सृष्टि रचना के समय ब्रह्मा जी के पुत्र मरीचि हुए जिनके पुत्र ऋषि कश्यप का विवाहअदिति से हुआ | अदिति ने घोर तप द्वारा भगवान् सूर्य को प्रसन्न किया जिन्होंनेउसकी इच्छा पूर्ति केलिए सुषुम्ना नाम की किरण से उसके गर्भ में प्रवेश किया |गर्भावस्था में भी अदिति चान्द्रायण जैसे कठिन व्रतों का पालन करती थी |

Most Read

“पारदर्शी कराधान – ईमानदार का सन्मान” प्लैटफ़ार्म का उदघाटन करेंगे प्रधानमंत्री मोदी जी!

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी 13 अगस्त 2020 को ‘पारदर्शी कराधान - ईमानदार का सम्मान’ के लिए प्‍लेटफॉर्म लॉन्च करेंगे ‘पारदर्शी कराधान - ईमानदार का सम्मान’ के लिए प्‍लेटफॉर्म लॉन्च करेंगे प्रधानमंत्री, श्री नरेन्‍द्र मोदी 13 अगस्त 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस अति महत्वपूर्ण योजना की शुभारंभ करेंगे । सी बी डी टी ने हाल के वर्षों में प्रत्यक्ष करों में कई प्रमुख या बड़े कर सुधार लागू किए हैं।

नव आत्मनिर्भर भारताचे नवे शैक्षणिक धोरण! एकविसाव्या शतकाला साजेशी असे नवीन शैक्षणिक धोरण

नव आत्मनिर्भर भारताचे नवे शैक्षणिक धोरण! एकविसाव्या शतकाला साजेशी असे नवीन शैक्षणिक धोरण! डॉ. स्वप्नील बी. मंत्री समाज विकास संवाद!

कोरोना रोगियों को “आश्रय मेडिकल बेड” की मिलेंगे सहारा!

कोरोना रोगियों को “आश्रय मेडिकल बेड” की मिलेंगे सहारा! DIAT ने "AASHRAY" नाम के कोविद -19 रोगियों के लिए मेडिकल बेड आइसोलेशन सिस्टम विकसित किया है वर्तमान महामारी में, कोविड ​​19 संक्रमित रोगियों की निरंतर वृद्धि के कारण, बेड की संख्या की आवश्यकता दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है।

फ़ेक सोश्ल मीडिया रैकेट से सावधान! सिंगर बादशाह ने फर्जी फॉलोअर्स बढ़ाने के लिए खर्च किए 75 लाख रुपये!

सिंगर बादशाह फेक सोशल मीडिया फॉलोअर्स रैकेट केस! रप्पर ने खर्च किया 75 लाख रुपये,  अपनी म्यूजिक विडियो प्रमोशन के लिए! आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को यहां बताया कि सनसनीखेज सोशल मीडिया रैकेट में अपनी जांच जारी रखते हुए, फर्जी 'अनुयायियों और पसंद' बनाने से जुड़े मुंबई पुलिस ने रैपर आदित्य सिंह सिसोदिया, उर्फ बादशाह सहित कम से कम 20 प्रमुख हस्तियों की जांच की है।