औरंगावाद में राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय का उद्घाटन

0
239

औरंगावाद में राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय का उद्घाटन

National Law University inaugurated in Aurangavad

समाज विकास संवाद!

मुंबई।

औरंगाबाद में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडऩवीस ने शनिवार को राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय का

उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि राज्य के गतिशील विकास के लिए

अच्छा मानव संसाधन की व्यापक उपलब्धता महत्वपूर्ण है। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार

बड़े पैमाने पर स्कील्ड मैन पावर बनाने की दिशा में काम कर रही है।

दो साल में महाराष्ट्र राष्ट्रीय  विधि विश्व विद्यालय को सभी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करा दी

जाएगी। इसके अलावा औरंगाबाद में जल्द ही स्कूल ऑफ आर्किटेक्चर शुरू  किया जाएगा।

इस मौके पर मंच पर बंबई उच्च न्यायालय की प्रभारी मुख्य न्यायमूर्ति विजया ताहीलरामाणी,

विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागडे, बंबई उच्च न्यायालय की औरंगाबाद खंडपीठ के न्यायमूर्ति

आरएम बोर्डे, न्यायमूर्ति गंगापुरवाला, विधि विश्वविद्यालय के कुलगुरु डॉ. एस प्रकाश उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में महाराष्ट्र एकलौता राज्य है, जहां तीन राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय है।

इन तीनों विश्वविद्यालयों में आवश्यक बुनियादी सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं,

जल्द ही बाकी बची सुविधाएं भी उपलब्ध कराई जाएगी।

 

न्याय की मूल संकल्पना ‘स्पिरिट ऑफ लॉ  की रक्षा होना आवश्यक

न्याय की मूल संकल्पना ‘स्पिरिट ऑफ लॉ  की रक्षा होना आवश्यक है।

इसे ध्यान में रखते हुए कानून क्षेत्र में उत्कृष्ट मैन पॉवर की निर्मिती इस विधि विश्वविद्यालय के

जरिए होगी। इसके माध्यम से विश्व, आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक परिवर्तन की प्रक्रिया,

गतिशील कानून और न्याय की प्रक्रिया लागू की जाएगी।

इस व्यापक परिप्रेक्ष्य से कानूनी शिक्षा, शिक्षा प्रक्रिया में लचीलापन, व्यापकता और

राष्ट्रीय- अंतर्राष्ट्रीय  परिवर्तन, प्रौïद्योगिकी की भागीदारी आवश्यक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि

किसी भी इलाके का विकास करने का उद्देश्य पूरा करने के लिए स्कील्ड मैन पॉवर की

आवश्यकता होती है। साथ ही विदेशी निवेश बढ़ाने में शैक्षणिक गुणवत्ता, स्कील्ड मैन

पावर प्रभावी होता है। इस दृष्टि  से औरंगाबाद में शुरू  हुआ राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय का

काफी महत्व है।

 

मराठवाड़ा में स्कूल ऑफ आर्किटेक्चर शुरू  करने की भी योजना है।

इसके अलावा जल्द ही मराठवाड़ा में स्कूल ऑफ आर्किटेक्चर शुरू  करने की भी योजना है।

इसके संदर्भ में एक प्रस्ताव मंजूरी के लिए केंद्र को भेजा गया है। सरकार ने गुणवत्तापूर्ण

उच्च शिक्षा पर जोर दिया है।

विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागडे ने कहा कि मराठवाड़ा में कानूनी शिक्षा देने वाला

राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय शुरू  होने से न्याय व्यवस्था अधिक मजबूत होगी और गरीब,

वंचित को न्याय देने वाले अच्छे वकील और न्यायाधीश मिलेंगे।

औरंगावाद, राष्ट्रीय_विधि_विश्वविद्यालय का उद्घाटन, #समाज_विकास_संवाद, #समाज_का_विकास,

India Development News, Indian Development News, Indian Social News,

India social News, Developmental News, Indian society News,  

Amazing Amazon News, Samaj Vikas Samvad, New India News, Samaj Ka Vikas,

Gadget Samvad, science-technology Samvad, Global Samvad,

Amazon Prime News,

व्यापार संवाद, आयुर्वेद संवाद, गैजेट्स संवाद, समाज विकास संवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here